HomeHindi Shayariबेवफा शायरी बेवफाई शायरी Bewafa Shayari in Hindi

बेवफा शायरी बेवफाई शायरी Bewafa Shayari in Hindi

आप सभी लोग हमारे इस चैनल “Rockvideozone” को Subscribe जरूर करे

इस पोस्ट प्यार करने वालों के लिए बेवफा शायरी बेवफाई शायरी Bewafa Shayari in Hindi शेयर कर रहे है। जो एक दूसरे के साथ इन Bewafa Shayari Bewafayi Shayari को साझा कर सकते है।

बेवफा शायरी बेवफाई शायरी

Bewafa Shayari in Hindiहमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला,
हमको जो भी मिला बेवफा यार मिला,
अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी,
हर कोई मकसद का तलबगार मिला।

आप सभी लोग हमारे इस चैनल “Rockvideozone” को Subscribe जरूर करे

Bewafa Shayari in Hindi for Love

कुछ अलग ही करना है तो वफ़ा करो दोस्त,
बेवफाई तो सबने की है मज़बूरी के नाम पर।

Bewafa Shayari in Hindi

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आकर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी।

Bewafa Shayari for GF

ज़िंदगी से बस यही एक गिला है,
ख़ुशी के बाद न जाने क्यों गम मिला है,
हमने तो की थी वफ़ा उनसे जी भर के..
पर नहीं जानते थे कि वफ़ा के बदले बेवफाई ही सिला है।

बेवफा शायरी

समझ न सके उन्हें हम,

क्योकि हम प्यार के नशे में चूर थे,

अब समझ में आया जिसपे हम जान लुटाते थे,

वो दिल तोड़ने के लिए मशहूर थे!!!

Bewafa Shayari in Hindi for Girlfriend

वो बेवफा हमारा इम्तिहां क्या लेगी,

जब मिलेगी तो नजर झुका लेगी,

उसे मेरी कबर पर दीया जलाने को मत कहना

नादान है अपना हाथ जला लेगी

Bewafa Shayari for BF

वफ़ा के नाम से मेरे सनम अनजान थे,
किसी की बेवफाई से शायद परेशान थे,
हमने वफ़ा देनी चाही तो पता चला,
हम खुद बेवफा के नाम से बदनाम थे।

Bewafa Shayari in Hindi for Boyfriend

कुछ टूटने की खबर आंसू है,
हमारे जीवन का अखबार आँसू है।
घटनाएं सभी हल्की हैं,
फिर भी भारी आँसू निकल रहे हैं।

दर्द दे गए सितम भी दे गए

ज़ख़्म के साथ वो मरहम भी दे गए

दो लफ़्ज़ों से कर गए अपना मन हल्का

और हमें कभी ना रोने की कसम दे गए।

बेवफा शायरी

तुम अगर याद रखोगे तो इनायत होगी,
वरना हमको कहाँ तुम से शिकायत होगी,
ये तो वही बेवफ़ा लोगों की दुनिया है,
तुम भूल भी जाओगे तो रिवायत होगी।

Bewafa Shayari in Hindi for GF

अगर इतनी ही नफरत है हमसे तो,

दिल से ऐसी दुआ करो….!

की आज ही तुम्हारी दुआ भी पूरी हो जाये

और हमारी जिन्दगी भी….!! ✍

मेरी तलाश का है जुर्म
या मेरी वफा का क़सूर,
जो दिल के करीब आया
वही बेवफा निकला।

Bewafa Shayari for Boyfriend

मेरे कलम से लफ्ज़ खो गए शायद

आज वो भी बेवफा हो गाए शायद

जब नींद खुली तो पलकों में पानी था

मेरे ख्वाब मुझ पे रो गाए शायद

बेवफा शायरी

हम से बिछड़ के फिर किसी के भी न हो सकोगे,
तुम मिलोगे सब से मगर हमारी ही तलाश में।

Bewafa Shayari in Hindi for BF

दर्द दे गयी, तड़प दे गयी,

जाते जाते गम जुदाई का दे गयी,

साथ देना तेरे बस में नहीं था तो बेवफा

फिर मुझे क्यों ये रुस्वाई दे गयी…

बिखरे हुए रिश्ते की कीमत ही क्या,

जब तोड़नेवाला ही न जानता हो,

बेवफ़ा से प्यार की उम्मीद ही क्या

जब वो निभाना ही न जानता हो…

Bewafa Shayari for GF

ज़हर माँगा तो बस दुहाई मिली,

प्यार माँगा तो सिर्फ रुस्वाई मिली,

साथ माँगा तो हमें तन्हाई मिली,

और वफ़ा चाहा तो बेवफाई मिली..

याद करेंगे तो दिन से रात हो जायेगी,
आईने को देखिये हमसे बात हो जायेगी,
शिकवा न करिए हमसे मिलने का,
आँखे बंद कीजिये मुलाकात हो जायेगी..!!

बेवफा शायरी

अच्छा होता जो उनसे प्यार न हुआ होता,
चैन से रहते हम जो दीदार न हुआ होता,
पहुँच चुके होते हम अपनी मंज़िल पर,
अगर एक बेवफा पर ऐतबार न हुआ होता।

Bewafa Shayari in Hindi for My Love

हम उम्मीदों की दुनियां बसाते रहे,

वो भी पल पल हमें आजमाते रहे,

जब मोहब्बत में मरने का वक्त आया,

हम मर गए और वो मुस्कुराते रहे।

हर भूल तेरी माफ़ की
तेरी हर खता को भुला दिया,
गम है कि मेरे प्यार का
तूने बेवफाई सिला दिया।

Bewafa Shayari Hindi

जख्मों को हमने खुद ही सिना सीख लिया है,
जीते है कैसे हमने जीना सीख लिया है,
अक्सर जो बहते रहते थे आंखों के रास्ते,
हमने भी उन अश्कों को पीना सीख लिया है..!!

न मैं शायर हूँ न मेरा शायरी से कोई वास्ता,
बस शौक बन गया है तेरी बेवफाई बयाँ करना।

Bewafa Shayari in Hindi for GF

आप बेवफा होंगे सोचा ही नहीं था,
आप भी कभी खफा होंगे सोचा नहीं था,
जो गीत लिखे थे कभी प्यार में तेरे,
वही गीत रुसवा होंगे सोचा ही नहीं था।

Love Bewafa Shayari

उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है,
जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है,
दिल टूटकर बिखरता है इस कदर,
जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है..!!

बेवफा शायरी

धीरे धीरे दूर होते गए,

वक़्त के आगे मजबूर होते गए,

इश्क़ में हमने ऐसी चोट खाई

हम बेवफा और वो बेक़सूर होते गए..

कितना नाज़ था हमें तेरे प्यार पर,

आज वही प्यार ने शर्मिंदा कर दिया,

बहा था न कभी एक अश्क इन आँखों से

तेरे प्यार ने हमें आंसुओं का दरिया बना दिया।

बेवफाई शायरी

हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला,
हम को जो भी मिला बेवफा यार मिला,
अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी,
हर कोई अपने मकसद का तलबगार मिला..!!

Bewafa Shayari in Hindi

गहराई प्यार में हो तो बेवफाई नहीं होती,
सच्चे प्यार में कहीं तन्हाई नहीं होती,
मगर प्यार ज़रा संभल कर करना मेरे दोस्त,
प्यार के ज़ख्म की कोई दवा नहीं होती।

Bewafa Shayari for my love

बेवफा वक़्त था? तुम थे? या मुकद्दर था मेरा?
बात इतनी ही है कि अंजाम जुदाई निकला।

रात की गहराई आँखों में उतर आई,
कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई,
ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के,
कुछ तो मजबूरी थी कुछ तेरी बेवफाई..!!

बेवफा शायरी

तूने ही लगा दिया इलज़ाम-ए-बेवफाई,
अदालत भी तेरी थी गवाह भी तू ही थी।

अपना दिल अपनी तबाही का सबक होता है

यह जवानी का आलम ही अजब होता है

कौनसी बात ने किसका दिल तोड़ दिया

बोलने वाले को एहसास ही कब होता है

Bewafa Shayari in Hindi

जहाँ पर नफरतों के खुरदरे दस्तूर होते हैं,
वहाँ पर प्यार के किस्से बहुत मशहूर होते है,
ये रिश्तों के उजालों में चमकते और बुझते हैं,
कहीं ये अश्क होते हैं कहीं सिन्दूर होते हैं..!!

मत ज़िकर करो अपनी अदा के बारे में Bewafa Shayari

मत ज़िकर करो अपनी अदा के बारे में

हम बहुत कुछ जानते हैं वफ़ा के बारे में

सुना है वो भी मोहबत का शौक़ रखने लगे हैं

जो जानते ही नहीं वफ़ा के बारे में

मेरा साया भी मुझसे जुदा मिला

आज हम उनको बेवफा बताकर आए हैं,
उनके खतो को पानी में बहाकर आए हैं,
कोई निकाल न ले उन्हें पानी से..
इस लिए पानी में भी आग लगा कर आए हैं।

मोहब्बत की भी देखो बेवफा शायरी

मोहब्बत की भी देखो कैसी अजब सी कहानी है,
ज़हर पीया था मीरा ने दुनिया राधा की दीवानी है..!!

कर के बेवफाई मुस्कुराते हैं वो,

दिल टूटता है तो शरमाते हैं वो,

जख्म दिल का नहीं देख पाते हे वो,

तभी तो इस जहा में दिलरूबा कहलाते हैं वो

बेवफाई शायरी

रूक जाती है सारी शिकायतें इन होंठो तक आकर,
जब मासूमियत से वो कहते है अब मैंने क्या किया..!!

Bewafa Shayari

रोये कुछ इस तरह से मेरे जिस्म से लग के वो,
ऐसा लगा कि जैसे कभी बेवफा न थे वो।

मेरा साया भी मुझसे जुदा मिला Bewafayi Shayari

मेरा साया भी मुझसे जुदा मिला,

सोचा तो हर किसी से मेरा सिलसिला मिला

शहर-ए-बेवफा में किसे इश्क़-ए-वफ़ा कहें

हमसे गले मिले वो भी बेवफ़ा मिला

Bewafa Shayari Hindi

मोहब्बत ने आज हमको रुला दिया

जिस पर मरते थे उसने ही भुला दिया

उसकी याद भुलाने के लिए आँसू पीता गया

एक दिन बेवफा ने उसमे भी ज़हर मिला दिया

ये मोहब्बत के हादसे अक्सर दिलों को तोड़ देते हैं बेवफा शायरी

ये मोहब्बत के हादसे अक्सर दिलों को तोड़ देते हैं,
तुम मंजिल की बात करते हो लोग राहों में ही साथ छोड़ देते हैं..!!

Latest Bewafa Shayari

काश कि हम उनके दिल पे राज़ करते,
जो कल था वही प्यार आज करते,
हमें ग़म नहीं उनकी बेवफाई का,
बस अरमां था कि…
हम भी अपने प्यार पर नाज़ करते।

बेवफाई शायरी

मोहब्बत का नतीजा दुनिया में हमने बुरा देखा,
जिन्हे दावा था वफा का उन्हें भी हमने बेवफा देखा..!!

अगर मोहब्बत की तिजारत का इतना शौक है बेवफाई शायरी

अगर मोहब्बत की तिजारत का इतना शौक है

तो ये बात भी जान लो दोस्तों

यहाँ वफ़ा का कोई मोल नहीं होता

और बेवफाई बहुत अनमोल होता है..

Bewafa Shayari

यू तो कोई तन्हा नहीं होता,
चाह कर किसी से जुदा नहीं होता,
मोहब्बत को मजबूरियां ले डूबती है,
वरना ख़ुशी से कोई बे वफ़ा नहीं होता!..

इल्जाम न दे मुझको तूने ही सिखाई बेवफाई है,
देकर के धोखा मुझे मुझको दी रुसवाई है,
मोहब्बत में दिया जो तूने वही अब तू पाएगी,
पछताना छोड़ दे तू भी औरों से धोखा खायेगी..!!

हमने वक़्त से बहुत वफ़ा की बेवफा शायरी

हमने वक़्त से बहुत वफ़ा की..

लेकिन वक़्त हमसे बेवफ़ाई कर गया…

कुछ तो हमारे नसीब बुरे थे..

कुछ उनका हमसे जी भर गया…

Bewafa Shayari

यूँ है सबकुछ मेरे पास बस दवा-ए-दिल नही,
दूर वो मुझसे है पर मैं उस से नाराज नहीं,
मालूम है अब भी मोहब्बत करता है वो मुझसे,
वो थोड़ा सा जिद्दी है लेकिन बेवफा नहीं।

उसके चेहरे पर इस क़दर नूर था,
कि उसकी याद में रोना भी मंज़ूर था,
बेवफा भी नहीं कह सकते उसको ज़ालिम,
प्यार तो हमने किया है वो तो बेक़सूर था।

ना जाने क्यूँ नज़र लगी ज़माने की Bewafa Shayari

ना जाने क्यूँ नज़र लगी ज़माने की,
अब वजह मिलती नहीं मुस्कुराने की,
तुम्हारा गुस्सा होना तो जायज़ था,
हमारी आदत छूट गयी मनाने की..!!

Bewafa Shayari

खा कर ज़ख़्म दुआ दी हमने,

बस यूही उमर बीता दी हमने,

देख कर जिसको दिल दुखता था,

आज वो तस्वीर जला दी हमने!!

मोहब्बत की राहों का अंजाम यही है,
ग़म को अपना लो बस पैगाम यही है,
इस शहर में मोहब्बत ढूंढे न मिलेगी,
हाँ बेवफ़ाओं का तो ऐलान यही है।

इस तरह हम उनसे वफ़ा कर बैठे

की वो हमारी बेवफाई को सह भी न पाये

वो रोये हमसे लिपटकर किसी और के लिए

और हम उन्हें चुप करा भी न पाये

इस दुनिया में मोहब्बत काश न होती बेवफा शायरी

इस दुनिया में मोहब्बत काश न होती,
तो सफर ऐ-ज़िन्दगी में मिठास न होती,
अगर मिलती बेवफा को सजाए मौत,
तो दीवानों की कब्रे यूँ उदास न होती।

Bewafa Shayari

कभी जो हम से प्यार बेशुमार करते थे,
कभी जो हम पर जान निसार करते थे,
भरी महफ़िल में हमको बेवफा कहते हैं,
जो खुद से ज़्यादा हमपर ऐतबार करते थे।

बेवफाई करके निकलूँ तो वफ़ा कर जाऊंगा बेवफाई शायरी

बेवफाई करके निकलूँ तो वफ़ा कर जाऊंगा,
शहर को हर ज़ायके से आशना कर जाऊंगा,
तो भी ढूढ़ेगा मुझे शौक-ए-सजा में इक दिन,
मैं भी कोई खूबसूरत सी खता कर जाऊंगा।

5/5 - (1 vote)
Share करे
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

close button