दिल को छूने वाली नशीली आँखों की शायरी Khoobsurat Aankh Shayari Best Eyes Shayari

0

Khoobsurat Aankh Shayari | 2 Lines Shayari on Eyes | Tareef Hindi Shayari on Eyes | Nashili aankhen Shayari in hindi | Shayari on Eyes | Tareef Shayari on Eyes | Shayari on Beautiful Eyes in Hindi.

आंखे शायरी | आंखों की तारीफ के शायरी | खूबसूरत आँखे के शायरी | निगाह पर शायरी | नशीली शायरी | मेरी आँखों पर बेहतरीन शायरी | आँखें शायरी २ लाइन | आंखों पर मस्त नशीली शायरी | खूबसूरत आँखों की दीदार शायरी

Aankh Shayari image

Aankh Shayari 1.

कुछ कहो तो शरमा जाती है आंखे
बिन बोले, बहुत कुछ कह जाती हैं आंखे

Aankh Shayari 2.

इशारों के ऐसे
तामझाम करते हैं
तुम्हारी आंखें हर रोज
कत्ल-ए-आम करते हैं

Aankh Shayari 3.

जो बोल ना पाऊं मैं
तो मेरी आंखो झांक लेना तुम
जो नैना चमके मेरी
तो मेरी खुशी जान लेना तुम
जो नमी हो नैनों में मेरे
तो मेरी उदासी मान लेना तुम
इस तरह से बिना बोले
मेरे भावों को पहचान लेना तुम

4.
तुम छुपाते जरूर हो मुझसे
पर तेरी आंखें बोल देती है
तुम्हारे दिल के सारे राज
मेरे सामने खोल देती है

5.
जब रोए
तब आंसुओ का तालाब
जब हंसे
तो चमके लाजवाब
गुस्से में दिखाए
एक अलग ही रुआब
बंद हो
तब दिखाए ख्वाब
सच है जनाब
आंखों का नहीं कोई जवाब

6.
बात जो भी दिल में
मुझसे सारी कहना
चाहे कितनी भी नाराजगी हो
नेत्रों के सामने ही रहना
बहुत दूरी सह ली हमने
अब एक पल कि भी
जुदाई नहीं है सहना

7.
पर्दा करती हो तो करो
हम तो फिर भी मोहब्बत करेंगे
भला जिसकी आंखे इतनी खूबसूरत हो
तो सूरत तो माशाल्लाह होगी

8.
तेरे बिन बोले ही मुझे मेरे
प्यार का जवाब मिल गया
तेरी नज़रे झुकी और
हमारे प्यार का फूल खिल गया

9.
जब हम मिलेंगे
ना जाने क्या बात करेंगे
ना तुम कुछ कहना
ना मैं कुछ कहूंगा
सिर्फ हमारे नैन बोलेंगे

10.
तेरी निगाहों के जाल में
ऐसा फंस गया
ना चाहते हुए भी
सिर्फ तेरा हो गया

11.
तेरे दिल के सारे राज खोलती है
तुझसे ज्यादा तेरी आंखे बोलती है

12.
जब से तू मेरे दिल में समाया है
मेरी निगाहों को सिर्फ तेरा ख्वाब आया है
तेरी जुबां पर मेरा नाम आये ना आये
मेरी तो हर सांस में तेरा नाम आया है

13.
तुझसे दूर हुए तो रह ना पाएंगे
अपना दर्द हम कह ना पाएंगे
कभी दूर जाने की बात ना कहना
वरना अभी मेरे नैन बरस जाएंगे

14.
मेरी धड़कन, मेरी जान हो तुम
निगाहों का देखा, हर ख्वाब हो तुम
तारीफ क्या करूं तुम्हारी
हर अदा से, लाजवाब हो तुम

15.
तेरे होंठो पर जो मुस्कान छाई है
तेरी आंखों में जो चमक आई है
हो ना हो तेरे चेहरे पर ये रंगत
मेरे प्यार की वजह से ही आई है

16.
मुझे देखते ही शर्मा कर
झुक जाते हैं तेरे नैना
बहुत भाता है मुझे, तेरा
इस तरह मुझे दीवाना करना

17.
हर बार ये करामात
दिखा जाती है अंखियां
मैं चुप रहती हूं और
बता जाती हैं अंखियां

18.
पलके क्या बंद की
दीदार तुम्हारा हो गया
इन आंखों में नींद नहीं
बस तुम रहते हो

19.
ये तमाशा सरेआम करती हैं
तुम्हारी कातिल निगाहें
आशिकों के कत्ल-ए-आम करती है

20.
उफ्फ ये झील जैसी आंखे तेरी
इसमें तैरूं या डूबकर मर जाऊं

तो आप सबको ये आखो की शायरी कैसे लगे कमेंट में जरुर बताये और इसे शेयर भी जरुर करे

इन शायरी को भी पढ़े

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here