Diwali Thoughts | Diwali Thoughts in Hindi | Happy Diwali Thoughts | Deepavali Thoughts | दिवाली विचार

0

Happy Diwali Thoughts in Hindi | Diwali Good Thoughts | Thought On Diwali in Hindi | Deepawali Thoughts Hindi

दिवाली थॉट्स | दिवाली विचार | दिवाली पर अच्छे विचार | दीपावली पर शुभ विचार

दिवाली एक तरफ जहा ढेर सारी खुशिया लाता है तो दूसरी तरफ दीपावली जैसे त्यौहार से बहुत कुछ सीखने को मिलता है हमारे त्यौहार एक दुसरे को नजदीक लाते है और आपसी मतभेदों को भुलाकर आपस में जोड़ने का भी कार्य करते है तो दूसरी तरफ इन त्योहारों के आने से हमे मानसिक थकावट से भी आराम मिल जाता है और फिर लोगो में एक नई उर्जा का संचार होता है जिससे फिर से वे अपने जीवन में आगे बढ़ते जाते है

तो ऐसे में इस दिवाली पर ऐसे सुंदर विचार अपनों को बीच शेयर करना चाहते है तो हम यहाँ आपके लिए Diwali Thoughts, Diwali Thoughts In Hindi, Thoughts On Diwali In Hindi, Happy Diwali Thoughts, Small Thoughts On Diwali In Hindi, Small Thoughts On Diwali In Hindi, Deepavali Thoughts, Happy Diwali Thoughts In Hindi, Diwali Good Thoughts, Thought On Diwali In Hindi लाये है जिन्हें आप अपनों के बीच इन दिवाली थॉट्स विचार को शेयर कर सकते है इन थॉट्स के जरिये दिवाली की शुभकामनाये दे सकते है..

दिवाली पर विचार | दिवाली थॉट्स | दीपावली पर विचार | हैप्पी दिवाली थॉट्स

Deepavali Thoughts | Good Thoughts for Diwali in Hindi | Small Thoughts On Diwali in Hindi | Happy Diwali Thoughts

Diwali thoughts1:-

देवी महालक्ष्मी की असीम कृपा से आपके घर में हमेशा उमंग और आनन्द हो, इस पावन मौके पर आप सबको शुभ दिवाली..

2:-

मेरी दुआ है कि यह पवित्र त्योहार आपके जीवन में उत्साह,

खुशियाँ, शांति और प्यार से सदा के लिए आपके जीवन को भर दे!

यह उत्साह वाला पल आपके जीवन को खुशियों से भर दे

और दीपों की रोशनी सा आपका जीवन चमक उठे

और आपकी सभी तमन्नाएं और सारे सपने पूरे हों

3:-

आई है दिवाली देखो,
संग लायी खुशियाँ देखो,
यहाँ वहां जहाँ देखो,
आज दीप जगमगाते देखो

4:-

दीप जलते रहे मन से मन मिलते रहे,

गिले सिकवे सारे मन से निकलते रहे,

सारे विश्व मे सुख-शांति की प्रभात ले आये,

 ये दीपो का त्योहार खुशी की सोंगात ले आये.

5:-

रंगीन खुशियों की बहार हैं दिवाली…

प्रेम और उल्लास का त्यौहार हैं दिवाली

6:-

रंगीन खुशियों की बहार हैं दिवाली…प्रेम और उल्लास का त्यौहार हैं दिवाली

7:-

खुशियाँ सबके घर-घर बाँटें,

तिमिर कुहासा मन का छाँटें।

धूम धड़ाका खुशी मनाएं,

सभी जगह पर दीप जलाएं।

8:-

आई है दिवाली देखो,
संग लायी खुशियाँ देखो,
यहाँ वहां जहाँ देखो,
आज दीप जगमगाते देखो

9:-

दीपावली के इस शुभ अवसर पर,
मेरी शुभकामनाए कुबूल कीजिये,,
ख़ुशी के इस माहोल में, हमको भी शामिल कीजिए

10:-

खुशियों की लहर को तुम बढ़ाते चलो
जीवन में सदा तुम मुस्कुराते चलो।
ना रहे अँधेरा नफरत और दुश्मनी का
एक प्यार भरा दिया तुम जलाते चलो।

11:-

जगमग जगमग दीप जल रहे हैं आज चारों और,
ऐसी रोशन हुयी हैं धरती की जिसका कोई नहीं हैं छोर।
रंगोली हैं सज़ा ली सबने क्युकी लक्ष्मी जी हैं आने वाली,
यही कामना मेरी हैं की खुशियों से भरी हो आपकी ये दिवाली।

12:-

मैंने दिवाली के दिये जलाये हैं इंतज़ार में आपके; ग़मों के अंधेरे दूर भगाये हैं रास्ते से आपके; आप आओ या ना आओ मेरे घर; मैंने खुशियों की सौगात घर भेजी हैं आपके

13:-

फूलों की शुरुआत कली से होती है;

जिंदगी की शुरुआत प्यार से होती है;

प्यार की शुरुआत अपनों से होती है;

और अपनों की शुरुआत आपसे होती है!

14:-

दिवाली आए मस्ती छाई रंगी रंगोली,
दीप जमाए धूम धडाका,
छोड़ा पटाका, जली फुलझड़ी,
सबको भाए ये शुभ दीपावली||

15:-

आई है दिवाली देखो,
संग लायी खुशियाँ देखो,
यहाँ वहां जहाँ देखो,
आज दीप जगमगाते देखो

16:-

आई आई दिवाली आई,
साथ में कितनी खुशिया लाई,
धूम मचाओ मोज मनाओ,
आप सभी को दीपावली की बधाइ||

17:-

दिवाली कुछ नही, है एक नाम रोशनी का
कीजिये कबुल ज़रा ये सलाम रोशनी का,
घर के आँगन मे जलता हुआ वो दिया,
आया है लेकर पैगाम रोशनी का..।।।

18:-

कोई कोना ऐसा हो ना,

जिसमें जलता दीप दिखे ना।

देखो, ऊपर नभ में थाली,

चन्दा के घर मनी दिवाली

19:-

जीवन में आया है नया उजियारा,

आ गया दिवाली का यह त्यौहार प्यारा।

20:-

चिरागों से अगर अँधेरा दूर होता
तो चांदनी की चाहत क्यूँ होती।
कट सकती अगर ये ज़िन्दगी अकेले
तो दोस्त नाम की चीज़ ही क्यूँ होती।

21:-

घरों को पहनायें दीपों की माला,

जिनकी रौशनी से फैला चारों तरफ उजाला

22:-

देखो, ढ़ेरों दीप जले हैं,

नहीं पटाखे वहाँ चले हैं।

कैसी सुन्दर हवा वहाँ है,

बोलो कैसी हवा यहाँ है।

सुनो, पटाखे नहीं चलाएं, धुआँ,

धुन्ध से मुक्ति पाए।

23:-

दुल्हन से सजे ये धरती, चारों तरफ हरियाली हो,
चमक उठे हर घर का आँगन, हर दिन नयी दीवाली हो,
हो खुशियो की बाहों मे बाहें, सपने सारे सच हो जाए,
मनचाहा पूरा करनेवाली ऐसी यह दीवाली आयें..।।

24:-

पर्व है पुरुषार्थ का, दीप के दिव्यार्थ का,

देहरी पर दीप एक जलता रहे,

अंधकार से युद्ध यह चलता रहे,

हारेगी हर बार अंधियारे की घोर-कालिमा,

जीतेगी जगमग उजियारे की स्वर्ण-लालिमा,

25:-

ढेरो खुशियां लाने वाली,

दीपों का ये पर्व दिवाली।

26:-

इस दिवाली जलाना हजारों दिये
खूब करना उजाला खुशी के लिए।
एक कोने में एक दिया जलाना जरुर
जो जले उम्र भर हमारी दोस्ती के लिए।

27:-

रोशनी और ख़ुशी का पर्व है दिवाली का त्योहार;
परंतु फ़ुलझाड़ियाँ करें आँखों को अंधा;
और हाथों को जला सकते हैं अनार;
वातावरण से प्रदूषित होता है संसार;
कृपा सावधानी बरतें मेरे यार;
इससे होगा जरूर सबका उधार;
आप सबको सुखी और सुरक्षित;
दीपावली का यह पावन त्योहार.

28:-

आपके जीवन में सदैव खुश-हाली और समृधि हो!
जगमगाते दीपों के पर्व की बहुत-बहुत बधाई!

29:-

दीप ही ज्योति का प्रथम तीर्थ है,
कायम रहे इसका अर्थ, वरना व्यर्थ है,
आशीषों की मधुर छांव इसे दे दीजिए,
प्रार्थना-शुभकामना हमारी ले लीजिए।।

30:-

ये दिवाली आपके जीवन में खुशिया लाये,
आप सदा यूँ ही दीये की तरह झीलमिलाये!
दिवाली की हार्दिक शुभकामनाये…!

तो आप सभी इन दिवाली Thoughts विचार को शेयर जरुर करे और दुसरो को भी दिवाली की शुभकामनाये देना ना भूले..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here